face
घर \ حلقات تليفزيونية \ क्या मनुष्य को धर्म की आवश्यकता है? \ चरित्र सुकून है (एरनिस्थ मंगवाई)

चरित्र सुकून है

" मेरी जानकारी के अनुसार नैतिक अधिनियम वह है जिसके संपन्न हने के बाद आंतरिक सुकून प्राप्त हो। और अनैतिक अधिनियम वह है जिसके संपन्न होने के बाद आंतरिक बेचैनी प्राप्त हो। "

एरनिस्थ मंगवाई

अमेरिकन लेखक

एरनिस्थ मंगवाई

वेबसैट लिंक

फोरम लिंक